मेनोपॉज ऐसी अवस्था होती है, जिसमें महिला के मासिक धर्म स्थायी रूप से बंद हो जाते हैं. ऐसे में महिलाओं को कई तरह के शारीरिक और मानसिक बदलावों का भी सामना करना पड़ता है. यहां तक कि मेनोपॉज का असर यौन स्वास्थ्य पर भी पड़ सकता है. कई महिलाओं में मेनोपॉज के बाद कामेच्छा में कमी देखने को मिलती है. इसलिए, कहा जा सकता है कि मेनोपॉज कामेच्छा और यौन स्वास्थ्य को भी पूरी तरह से प्रभावित कर सकता है. मेनोपॉज के दौरान कुछ महिलाओं में यौन रुचि कम हो जाती है, लेकिन ऐसा सभी महिलाओं में देखने को नहीं मिलता है.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि मेनोपॉज से कामेच्छा कैसे प्रभावित होती है और इसका इलाज क्या है -

(और पढ़ें - स्त्री को जोश कब आता है)

  1. मेनोपॉज कामेच्छा को कैसे प्रभावित करता है?
  2. क्या मेनोपॉज सभी महिलाओं में कामेच्छा कम करता है?
  3. मेनोपॉज में कामेच्छा को बढ़ाने के लिए इलाज
  4. सारांश
क्या मेनोपॉज से सेक्स की रुचि कम होती है के डॉक्टर

मेनोपॉज कई तरह से कामेच्छा को प्रभावित कर सकती है. इसके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है -

  • मेनोपॉज के दौरान शरीर में एस्ट्रोजन और टेस्टोस्टेरोन दोनों का स्तर कम हो जाता है. इसकी वजह से महिलाओं के लिए उत्तेजित होना कठिन हो सकता है. एस्ट्रोजन की कमी से योनि में सूखापन आ जाता है. योनि का सूखान दर्दनाक सेक्स का कारण बन सकता है.
  • सेक्स हार्मोन (एस्ट्रोजन) में कमी वजाइनल वॉल के पतले होने का कारण भी बन सकती है. इस समस्या को वेजाइनल एंट्रोपी कहा जाता है. यह समस्या महिला की कामेच्छा को प्रभावित कर सकती है.
  • मेनोपॉज के दौरान योनि में ब्लड फ्लो भी कम हो जाता है. ऐसे में सेक्स दर्दनाक बन जाता है, जिस कारण महिला की सेक्स के प्रति रुचि कम होने लगती है.
  • कामेच्छा में कमी के साथ ही एंग्जाइटीपेशाब रोकने में मुश्किलडिप्रेशनअनिद्राहेयर फॉल और वजन बढ़ना भी मेनोपॉज के लक्षण माने जाते हैं. स्ट्रेस भी महिला की कामेच्छा को प्रभावित कर सकता है.

(और पढ़ें - महिला कितनी उम्र तक सेक्स कर सकती है)

मेनोपॉज के चलते महिला की सेक्स के प्रति रुचि काफी हद तक प्रभावित हो सकती है, लेकिन ऐसा सभी महिलाओं में देखने को मिले, यह जरूरी नहीं है. कुछ महिलाएं मेनोपॉज में भी पूरी रुचि के साथ सेक्स करना पसंद करती हैं. एक रिसर्च में भी कुछ महिलाओं ने बताया कि मेनोपॉज के दौरान भी उनकी सेक्स ड्राइव बेहतर रही है.

(और पढ़ें - महिला कामोत्तेजना क्या है)

मेनोपॉज में कामेच्छा यानी यौन रुचि कम हो जाती है, लेकिन इसका इलाज करवाकर कामेच्छा को बढ़ाने में मदद मिल सकती है. कामेच्छा बढ़ाने का इलाज इस प्रकार है -

एस्ट्रोजन और टेस्टोस्टेरोन पिल्स

एस्ट्रोजन पिल्स मेनोपॉज में कामेच्छा बढ़ाने में मदद कर सकती है. दरअसल, एस्ट्रोजन पिल्स वेजाइनल ड्राइनेस और एंट्रोपी को कम करने में मदद कर सकती हैं. इसके साथ ही आप चाहें तो योनि पर एस्ट्रोजन क्रीम आदि भी लगा सकती हैं. इससे सेक्स के दौरान होने वाले दर्द में आराम मिल सकता है. एस्ट्रोजन पिल्स फायदे के साथ-साथ रक्त के थक्के, दिल का दौरा और स्तन कैंसर जैसी समस्याओं का कारण भी बन सकती हैं.

इसके साथ ही टेस्टोस्टेरोन की खुराक लेने से भी मेनोपॉज के दौरान यौन रुचि को बढ़ाया जा सकता है. टेस्टोस्टेरोन पिल्प लेने से हाई कोलेस्ट्रॉल और मुंहासे निकलना जैसे दुष्प्रभाव नजर आ सकते हैं.

(और पढ़ें - महिलाओं को उत्तेजित करने वाले अंग)

लुब्रिकेंट जेल का इस्तेमाल

संभोग के दौरान दर्द और परेशानी कामेच्छा को प्रभावित करती है. ऐसे में लुब्रिकेंट जेल योनि के सूखेपन को कम करने में मदद कर सकती है. इससे सेक्स करना आरामदायक हो सकता है. यह जेल सेक्स के दौरान होने वाले दर्द को कम कर सकता है. साथ ही कामेच्छा को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है.

(और पढ़ें - महिलाओं को हो सकती है ये सेक्स समस्या)

एक्सरसाइज करें

रेगुलर एक्सरसाइज करने से मेनोपॉज के असर को कम करने में मदद मिल सकती है. एक्सरसाइज करने से एंडोर्फिन हार्मोन रिलीज करता है, इससे तनाव कम करने में मदद मिलती है. साथ ही महिला में पॉजिटिविटी आती है. एक्सरसाइज वेट लॉस करने में भी सहायक होता है. इससे मेनोपॉज में महिलाओं का वजन कंट्रोल में रहता है. जब ये सारे लक्षण कम होने लगते हैं, तो यौन रुचि खुद ही बढ़ने लगती है. मेनोपॉज में कामेच्छा बढ़ाने के लिए आपको रोजाना 10 मिनट एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए.

कीगल एक्सरसाइज कामेच्छा को बढ़ाने में अधिक फायदेमंद हो सकती है. कीगल एक्सरसाइज पेल्विक मसल्स को टाइट करने और सेक्स के दौरान संवेदनाओं को बढ़ाने में मदद कर सकती है.

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान पुरुषों से क्या चाहती हैं महिलाएं)

घरेलू उपाय

कुछ खास घरेलू उपाय भी महिलाओं में मेनोपॉज के दौरान कामेच्छा के बढ़ा सकते हैं. इसके लिए आप अपनी डाइट में एस्ट्रोजन लेवल बढ़ाने वाले फूड्स शामिल कर सकती हैं. सोया कामेच्छा को बढ़ाने में काफी असरदार साबित हो सकता है. दरअसल, सोया में एस्ट्रोजन का प्रभाव होता है, जिससे यह सेक्स रुचि को बढ़ाने में मदद कर सकता है. इसके अलावा, कुछ जड़ी-बूटियां भी कामेच्छा को बढ़ा सकती हैं. आप अपने आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह पर जड़ी-बूटियों को अपनी डाइट का हिस्सा बना सकती हैं.

(और पढ़ें - फीमेल इजैक्युलेशन क्या है)

मेनोपॉज के दौरान एस्ट्रोजन और टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो जाता है. इसकी वजह से महिलाओं में कामेच्छा में कमी आ जाती है. वैसे कुछ महिलाओं में मेनोपॉज में भी सेक्स रुचि बनी रहती है. अगर आप में मेनोपॉज के दौरान सेक्स रुचि कम हो गई है, तो आप हार्मोन का स्तर बढ़ाने के लिए पिल्स ले सकती हैं. साथ ही अच्छी डाइट व रेगुलर एक्सरसाइज की मदद से भी कामेच्छा को बढ़ाया जा सकता है. अगर तमाम कोशिशों के बाद भी मेनोपॉज में आपको उत्तेजित होने में कठिनाई होती है, तो एक बार डॉक्टर से जरूर मिलें.

(और पढ़ें - सेक्स से बचने के लिए महिलाओं के बहाने)

Dr. Shiv Prakash Singh

Dr. Shiv Prakash Singh

सेक्सोलोजी
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Gaurav Kulkarni

Dr. Gaurav Kulkarni

सेक्सोलोजी
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Pradeep T.Goud

Dr. Pradeep T.Goud

सेक्सोलोजी
32 वर्षों का अनुभव

Dr. Dipesh Choubisa

Dr. Dipesh Choubisa

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें