अधिकतर लोग अपने बढ़े हुए वजन से परेशान हैं और जितनी जल्दी हो सके वजन कम करना चाहते हैं. यह सामान्य भी है, क्योंकि हर व्यक्ति फिट और हेल्दी रहना चाहता है, लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें, तो धीरे-धीरे वजन कम करना ही अच्छा विकल्प होता है. जब धीरे-धीरे वजन कम किया जाता है, तो इससे वेट लंबे समय तक मेंटेन रहता है. वहीं, जब कोई व्यक्ति कम समय में ही अधिक वजन घटा लेता है, तो इससे उसे नुकसान पहुंच सकता है. तेजी से वजन घटाना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. 

आज इस लेख में आप जानेंगे कि तेजी से वजन घटाने से किस प्रकार के शारीरिक नुकसान हो सकते हैं -

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए क्या खाएं)

  1. कितना वजन कम करना सामान्य है?
  2. तेजी से वजन कम करने के नुकसान
  3. हेल्दी वेट लॉस करने के लिए टिप्स
  4. सारांश
तेजी से वजन घटाने के नुकसान के डॉक्टर

कई विशेषज्ञों का मानना है कि वजन को हमेशा धीरे-धीरे ही कम करना चाहिए. हर सप्ताह 0.45 से 0.90 किग्रा वजन करना करना सबसे सुरक्षित माना जाता है. अगर कोई व्यक्ति हर सप्ताह 0.90 किग्रा तक वजन कम कर रहा है, तो उसे हेल्दी वेट लॉस कहा जा सकता है. सुरक्षित वेट लॉस करके आप हेल्दी रह सकते हैं.

वहीं, जो लोग सप्ताह में 0.90 किग्रा से अधिक वजन कम करते हैं. उन्हें कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. इसमें मांसपेशियों का कम होना व पित्ताशय की पत्थरी जैसे नुकसान हो सकते हैं. 

(और पढ़ें - वजन घटाने वाले फल व सब्जियां)

तेजी से वजन कम करने के नुकसान इस प्रकार हो सकते हैं -

मसल्स लॉस

तेजी से वजन घटाने पर कोई भी व्यक्ति अपना मसल्स मास खो सकता है. दरअसल, लो कैलोरी डाइट लेने से वजन को तेजी से कम करने में मदद मिल सकती है. हालांकि, इस स्थिति में वजन तो कम हो जाता है, लेकिन मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं.

(और पढ़ें - वजन घटाने वाला आटा)

धीमा मेटाबॉलिज्म

तेजी से वजन कम करने पर मेटाबॉलिज्म धीमा हो सकता है. स्लो मेटाबॉलिज्म यानी रोजाना कम कैलोरी बर्न होना. इससे वजन तो कम हो जाता है, लेकिन इसे हेल्दी नहीं माना जाता है. दरअसल, तेजी से वजन घटाने से हार्मोनल बदलाव भी हो सकते हैं. साथ ही स्लो मेटाबॉलिज्म की समस्या लंबे समय तक रह सकती है.

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए पैदल चलने के तरीके)

पोषक तत्वों की कमी

अगर कोई नियमित रूप से कैलोरी नहीं लेगा, तो शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने लगेगी. ऐसा इसलिए है, क्योंकि कम कैलोरी वाले आहार लेने से शरीर जरूरी पोषक तत्व जैसे - आयरन, फोलेट और विटामिन-बी12 को अवशोषित नहीं कर पाता है. 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए लहसुन)

संतुलित मात्रा में वजन घटाने के लिए Myupchar Ayurveda Medarodh एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. इसे खरीदने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें -

पित्ताशय की पथरी

पित्ताशय की पथरी यानी गॉलस्टोन. इसमें पित्ताशय की थैली के अंदर कठोर टुकड़े होते हैं, जो गंभीर दर्द पैदा कर सकते हैं. पित्ताशय की पथरी तेजी से वजन कम करने का एक दुष्प्रभाव हो सकता है. दरअसल, पित्ताशय वसायुक्त भोजन को तोड़ने के लिए पाचक रस छोड़ता है, ताकि इसे पचाया जा सके. वहीं, जब कोई व्यक्ति सही मात्रा में खाना नहीं खाता है, तो पित्ताशय की थैली से पाचक रस नहीं निकलता है. पित्त पथरी तब बनती है, जब पाचक रस के अंदर पदार्थ जमा हो जाते हैं.

इनके अलावा तेजी से वजन घटाने के कई अन्य नुकसान भी हो सकते हैं. इसमें भूख लगना, थकानचिड़चिड़ापनठंड महसूस होनामांसपेशियों में ऐंठनचक्कर आनाकब्ज या दस्त और डिहाइड्रेशन आदि शामिल है.

(और पढ़ें - क्या कम खाने से वजन घटता है)

स्वस्थ रहने के लिए हमेशा हेल्दी वेट लॉस करने पर ही फोकस करना चाहिए, जो इस प्रकार है -

  • वेट लॉस करने के लिए हाई प्रोटीन डाइट लें. इससे मसल्स मजबूत रहेंगी.
  • शुगर और रिफाइंड कार्ब्स से पूरी तरह से परहेज करें.
  • खाने को धीरे-धीरे से चबाएं और फिर निगलें.
  • ग्रीन टी को वेट लॉस डाइट में शामिल करें. यह मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है.
  • रोजाना एक्सरसाइज और योग जरूर करें. इससे कैलोरी बर्न करने में मदद मिलेगी.
  • वजन घटाने के लिए अधिक फाइबर लें. फाइबर लेने से लंबे समय तक भूख नहीं लगती है.

(और पढ़ें - वजन घटाते समय न करें गलतियां)

अगर कोई अपना वजन कम करना चाहता है, तो प्रति सप्ताह 0.45–0.9 किग्रा से अधिक वजन बिल्कुल न घटाएं. अगर एक सप्ताह में इससे अधिक वजन घटता है, तो इसे हेल्दी वेट लॉस नहीं माना जाता है. इस स्थिति में कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है यानी तेजी से वजन घटाने पर सेहत को नुकसान पहुंच सकता है. इसलिए, सही तरीके से ही वेट लॉस करें और सुरक्षित रहें.

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए बायोटिन के फायदे)

Dr. Swapnil Saurabh Deka

Dr. Swapnil Saurabh Deka

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Ravinder Jit Singh

Dr. Ravinder Jit Singh

सामान्य चिकित्सा
2 वर्षों का अनुभव

Dr. Keyur Maganbhai Patel

Dr. Keyur Maganbhai Patel

सामान्य चिकित्सा
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Shrishti Kumar

Dr. Shrishti Kumar

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें