मोटापा हो तो कई तरह की बीमारियां होने का खतरा रहता है. इसलिए, मोटापे को दूर करना जरूरी है. इसके लिए व्यक्ति वजन कम करने की कोशिश में लगा रहता है. एक बार वजन कम हो जाए, तो त्वचा ढीली हो जाती है, जिससे चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों की खूबसूरती प्रभावित होती है. ऐसे में सवाल यह उठता है कि वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा को कैसे ठीक किया जा सकता है. एक्सरसाइज, स्पेशल डाइट लेना, फर्मिंग क्रीम का इस्तेमाल और बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी के जरिए वजन कम करने के बाद हुई ढीली त्वचा को ठीक करने में मदद मिलती है.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा को कैसे ठीक किया जा सकता है -

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए क्या खाएं)

  1. वजन कम करने के बाद त्वचा ढीली क्यों होती है?
  2. वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा के लिए घरेलू इलाज
  3. वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा के लिए मेडिकल ट्रीटमेंट
  4. सारांश
वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा कैसे ठीक करें? के डॉक्टर

सबसे पहले तो यह जानना जरूरी है कि वजन कम करने के बाद त्वचा क्यों ढीली पड़ जाती है. त्वचा कोलेजन नामक प्रोटीन और इलास्टिन फाइबर जैसे प्रोटीन से बनी होती है. ये प्रोटीन त्वचा में कसाव लाते हैं और त्वचा को स्ट्रेच करने के बाद वापस अपने आकार में लाते हैं. जब त्वचा लंबे समय तक स्ट्रेच हो जाती है, तो कोलेजन और इलास्टिन फाइबर दोनों डैमेज हो जाते हैं.

वहीं, वजन कम करने के बाद त्वचा में एसेंशियल प्रोटीन की कमी हो जाती है, जिससे यह वापस अपने असल आकार में नहीं आ पाती है. त्वचा की फर्मनेस खत्म हो जाती है और यह ढीली हो जाती है. इलास्टिन और कोलेजन को खोने के बाद त्वचा में कोलेजन के निर्माण में भी बदलाव आ जाता है. वजन कम करने के बाद त्वचा में कम कोलेजन बचता है और इसका कम्पोजीशन युवा और स्वस्थ त्वचा से अलग होता है.

(और पढ़ें - वजन कम करने के आयुर्वेदिक उपाय)

वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा को ठीक करने के लिए एक्सरसाइज, स्पेशल डाइट का सेवन, फर्मिंग क्रीम का इस्तेमाल जैसे कई घरेलू तरीके हैं. आइए, इन उपायों के बारे में विस्तार से जानते हैं -

एक्सरसाइज

फिजिकल एक्टिविटी और स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग करके वेट लॉस को मेंटेन करने के साथ ही स्वस्थ मांसपेशियों को बनाने में मदद मिल सकती है. इससे ढीली त्वचा को ठीक किया जा सकता है, क्योंकि नई मांसपेशियां भरने लगती हैं. दरअसल, वजन कम करने के बाद त्वचा को भरने वाला फैट खत्म हो जाता है. ऐसे में स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग के जरिए मांसपेशियों को बनाकर त्वचा के ढीलेपन को कम करने में मदद मिलती है. 

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए सबसे बेहतरीन फल)

सही डाइट

ढीली त्वचा को ठीक करने का एक और रास्ता सही डाइट का सेवन है. लीन प्रोटीन वाली डाइट के सेवन से पुरानी मांसपेशियां बनी रहती हैं और नई मांसपेशियों का निर्माण होता है. स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग के बाद प्रोटीन का सेवन मांसपेशियों के निर्माण के लिए जरूरी है. इसके साथ ही भरपूर पानी पीना भी उतना ही जरूरी है, क्योंकि अच्छी तरह से हाइड्रेटेड त्वचा की इलास्टिसिटी और फ्लेक्सिबिलिटी बनी रहती है. विटामिन-सी कोलेजन सिन्थेसीस के लिए जरूरी है. ओमेगा 3 फैटी एसिड त्वचा कि इलास्टिसिटी में सुधार लाता है.  

(और पढ़ें - महिलाओं का मोटापा कम करने के उपाय)

कम्प्रेशन क्लोदिंग

कम्प्रेशन क्लोदिंग भी वजन कम करने के बाद ढीली पड़ी त्वचा में मददगार है. कम्प्रेशन स्टॉकिंग्स और अन्य कपड़े ढीली त्वचा को कसाव के साथ पकड़े रहते हैं, जिससे त्वचा से त्वचा का संपर्क कम होता है और फ्रिक्शन भी कम हो जाता है. इससे त्वचा में दर्द, इरिटेशन, खुजली और इन्फेक्शन का जोखिम खत्म हो जाता है, लेकिन यहां यह ध्यान रखने वाली बात है कि कम्प्रेशन क्लोदिंग से ढीली त्वचा में सुधार नहीं आता है, बस साइड इफेक्ट्स कम हो जाते हैं.

(और पढ़ें - महिलाओं का पेट कम करने के उपाय)

फर्मिंग क्रीम

कई ओवर-द-काउन्टर फर्मिंग क्रीम उपलब्ध हैं, जो वजन कम करने के बाद हुई ढीली त्वचा में कसाव ला सकते हैं. हालांकि, इसके बारे में स्पेशलिस्ट से बात करके ही आगे बढ़ने की सलाह दी जाती है.

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी और थर्मीटाइट जैसे मेडिकल ट्रीटमेंट की मदद से भी वजन कम करने के बाद ढीली हुई त्वचा को ठीक किया जा सकता है -

बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी

बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी को सर्जन द्वारा किया जाता है, जो शरीर से अतिरिक्त फैट और त्वचा को बाहर निकाल देता है. सर्जन बचे हुए उत्तकों के आकार में भी सुधार लाने का काम करता है और शरीर को स्मूद लुक देता है. ढीली त्वचा को ठीक करने के लिए कई तरह की बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी है, जिसमें एब्डोमिनोप्लास्टी (abdominoplasty), पैनिक्युलेक्टोमी (Panniculectomy) (स्किन रिमुवल सर्जरी), ब्रैकियोप्लास्टी (brachioplasty) (आर्म लिफ्ट), ब्रेस्ट लिफ्ट, लोअर बॉडी लिफ्ट और थाई लिफ्ट शामिल हैं. बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी के लिए हॉस्पिटल में रहने की जरूरत पड़ती है.

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए पैदल चलने के तरीके)

वेलाशेप

इस प्रक्रिया में रेडियोफ्रीक्वन्सी और इंफ्रारेड लाइट का इस्तेमाल किया जाता है. यह नए कोलेजन और इलास्टिन के विकास को स्टिमूलेट करता है और त्वचा को फ्लेक्सिबिलिटी प्रदान करता है.

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज)

थर्मीटाइट

इस प्रक्रिया के लिए रेडियोफ्रीक्वन्सी का इस्तेमाल किया जाता है, जो कैथेटर के जरिए कोशिकाओं को पहुंचाया जाता है. इस प्रक्रिया में त्वचा के अंदर के उत्तकों को गर्माहट प्रदान की जाती है, जिससे त्वचा को सिकुड़ने में मदद मिलती है. 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए योगासन)

वजन बढ़ा हुआ हो, तो उसे कम करना जरूरी है. इससे ही व्यक्ति स्वस्थ रहता है वरना बढ़े हुए वजन के साथ कई बीमारियां घेर लेती हैं, लेकिन बढ़ा हुआ वजन जब कम होता है, तो त्वचा ढीली पड़ जाती है. इस ढीली पड़ी त्वचा को ठीक करने के लिए एक्सरसाइज, सही डाइट का सेवन, फर्मिंग क्रीम का इस्तेमाल के साथ बॉडी कॉन्टूरिंग सर्जरी और थर्मीटाइट जैसे मेडिकल ट्रीटमेंट से मदद मिल सकती है. वजन कम करने के बाद ढीली त्वचा को ठीक करने के लिए डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए.

(और पढ़ें - बिना खाना कम किए वजन घटाने के नुस्खे)

Dr. Merwin Polycarp

Dr. Merwin Polycarp

डर्माटोलॉजी
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Raju Singh

Dr. Raju Singh

डर्माटोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Afroz Alam

Dr. Afroz Alam

डर्माटोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Pranjal Praveen

Dr. Pranjal Praveen

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें