सिर के बाल हो या फिर शरीर के किसी हिस्से के बाल, उनके बारे में कहा जाता है कि इन्हें काटने से बाल अधिक तेजी से बढ़ते हैं. अक्सर लोगों को कहते हुए सुना भी जाता है कि सिर के बालों को शेव कर देने से नए बाल तेजी से और घने उगते हैं. साथ ही इससे गंजेपन की समस्या भी ठीक हो सकती है, जबकि वैज्ञानिक आधार इस तथ्य की पुष्टि नहीं होती है. बाल चाहे सिर के हों या फिर शरीर के किसी अन्य हिस्से के, उनकी ग्रोथ त्वचा के नीचे मौजूद हेयर फॉलिकल्स पर निर्भर करती है.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि बाल काटने के बाद बाल बढ़ते हैं या नहीं -

(और पढ़ें - बालों के विकास के लिए सप्लीमेंट्स)

  1. क्या बाल काटने के बाद बाल तेजी से बढ़ते हैं?
  2. बाल काटने के बाद बालों में होने वाले बदलाव
  3. बाल काटने के बाद बालों का विकास कैसा होता है?
  4. सारांश
क्या बाल काटने से बाल बढ़ते हैं? के डॉक्टर

नहीं, आपने भी यह जरूर सुना होगा कि चेहरे, शरीर व सिर के बाल काटने या शेव करने से बाल तेजी बढ़ लगते हैं, लेकिन यह बिल्कुल सच नहीं है. बालों को शेव करने से बालों में थोड़ा बदलाव जरूर आता है, लेकिन बालों की लंबाई नहीं बढ़ती है.

बाल काटने से बाल बढ़ते हैं, यह बिल्कुल गलत धारणा है. 1928 में हुई रिसर्च में साबित हो चुका है कि बाल काटने से बाल तेजी से नहीं बढ़ते हैं. शेविंग के बाद भी बाल अपनी ही रफ्तार से बढ़ते हैं. बालों को शेव करने से उनकी मोटाई, रंग और विकास की रफ्तार में भी कोई बदलाव नहीं आता है. 

जब सिर के बालों को शेव किया जाता है, तो शुरू में बालों का उगना अलग दिख सकता है, लेकिन फिर धीरे-धीरे बाल पहले जैसे ही हो जाते हैं. बाल काटने से बाल घने नहीं होते हैं और न ही बढ़ते हैं. 

(और पढ़ें - बालों के विकास के लिए जरूरी विटामिन)

बाल काटने के बाद बालों में थोड़े बहुत बदलाव नजर आ सकते हैं, लेकिन पहले वाले और नए बालों में बहुत ज्यादा अंतर नहीं होता है. शेविंग के बाद उगने वाले नए बाल काले दिख सकते हैं. दरअसल, ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि नए बाल अभी प्रदूषण व धूप के सीधे संपर्क में नहीं आए होते हैं. जब धीरे-धीरे बाल साबुन, केमिकल प्रोडक्ट्स, धूल-मिट्टी और धूप के संपर्क में आने लगते हैं, तो पहले जैसे ही दिखने लगते हैं.

(और पढ़ें - बालों के लिए प्याज का तेल)

जब शरीर के बालों को शेव किया जाता है, तो इन बालों को पूरी लंबाई तक पहुंचने में लगभग 1 महीने का समय लग सकता है. यह इसलिए होता है, क्योंकि शरीर के बाल सिर के बालों की तुलना में काफी छोटे होते हैं. वहीं, सिर के बालों का विकास चार चरणों से होकर गुजरता है - एनाजेन, केटाजेन, टेलोजेन, एक्सोजेन. इसलिए, सिर के बालों को पूरी तरह से विकसित होने में 1 वर्ष तक का समय लग सकता है. बालों की शुरुआत बालों के रोम में होती है. बालों के रोम त्वचा के नीचे स्थित होते हैं.  

बालों की जड़ें प्रोटीन से बनती हैं. जैसे ही बाल जड़ों से बनना शुरू होते हैं. ये रोम के साथ-साथ वसामय ग्रंथियों से होकर गुजरते हैं. ग्रंथियों में उत्पादित सीबम यानी ऑयल बालों को लंबे और चमकदार बनाने में मदद करता है. जब बाल त्वचा की सतह से बाहर निकल जाते हैं, तो डेड हो जाते हैं. ऐसे में जब कोई व्यक्ति अनचाहे बालों को शेव करता है, तो वह डेड हेयर्स को काट रहा होता है. इसलिए इनमें दर्द नहीं होता है.

शेविंग से सिर्फ ऊपर के बाल निकलते हैं. शेविंग से त्वचा के नीचे के बाल नहीं हटते हैं. इसलिए जब ये बाल लंबे होते हैं, तो इनके रंग या बनावट में अधिक बदलाव देखने को नहीं मिलता है, बल्कि त्वचा के नीचे के बालों की ही धीरे-धीरे ग्रोथ होती है.  

(और पढ़ें - बालों के विकास के लिए बायोटिन के फायदे)

बालों के बेहतर विकास के लिए आप Sprowt Biotin का सेवन कर सकते हैं. यह सप्लीमेंट बालों को जड़ों से मजबूत बनाता है. इसे अभी खरीदने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें -

अगर आपने भी सुना है कि बालों को काटने से बाल तेजी से बढ़ते हैं, तो यह बिल्कुल गलत है, क्योंकि बालों को काटने या शेव करने से बालों के विकास की दर बिल्कुल भी प्रभावित नहीं होती है. न ही शेव करने से बालों के रंग में कोई बदलाव आता है.

(और पढ़ें - बालों के विकास के लिए अरंडी का तेल)

Dr. Merwin Polycarp

Dr. Merwin Polycarp

डर्माटोलॉजी
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Raju Singh

Dr. Raju Singh

डर्माटोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Afroz Alam

Dr. Afroz Alam

डर्माटोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Pranjal Praveen

Dr. Pranjal Praveen

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें